.

मेरी यादों में डा.अमर कुमार...(साभार अनूप शुक्ल)



फुरसतिया पर अनूप शुक्ल जी ने अनूठे ढंग से डॉ अमर कुमार को कल याद किया...इस पोस्ट से पता चला कि डॉक्टर साहब की पढ़ाई-लिखाई भी अनूप जी के शहर कानपुर में ही हुई थी...अनूप जी ने डॉक्टर साहब की शख्सीयत से जुड़े कई बेबाक पहलुओं को इस पोस्ट में उकेरा है...इसी पोस्ट पर दिए लिंक से डॉक्टर साहब के एक दुर्लभ इंटरव्यू को भी पढ़ने का सौभाग्य मिला...और भी बहुत कुछ सहेजा है अनूप जी ने डॉक्टर साहब को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए इस संग्रहणीय पोस्ट में...




3 comments:

रचना said...
This comment has been removed by the author.
रचना said...
This comment has been removed by the author.
Khushdeep Sehgal said...

रचना जी,
क्या पाबला जी और अनूप जी की इन दो पोस्टों में डॉ अमर जी की कई अनमोल टिप्पणियां नहीं है...मैं पहले भी साफ़ कर चुका हूं कि इस ब्लॉग पर टिप्पणियों के साथ डॉक्टर साहब के संस्मरण भी प्रकाशित (या पुनर्प्रकाशित) किए जाएंगे...लेकिन बार बार की आपत्तियों से यही अच्छा लग रहा है कि मैं जितनी टिप्पणियां आ चुकी हैं, उन्हें ही प्रकाशित करूं...उसके बाद जैसे पहले कह चुका हूं कि इस ब्लॉग को सबके लिए खोल दिया जाएगा...इससे सबको सीधे टिप्पणियां या संस्मरण डालने की सुविधा मिल जाएगी...मैं नहीं चाहता कि उस पुण्यात्मा को समर्पित ब्लॉग को
लेकर किसी विवाद को मौका मिले...इसलिए शायद मेरे लिए हाथ पीछे खींच लेना ही बेहतर होगा...

जय हिंद...

Post a Comment

 
Copyright (c) 2010. अमर कहानियां All Rights Reserved.